AVS

Astrologer,Numerologer,Vastushastri

Vastu

Vastu

“वास्तु”  ढाई अक्षर का एक शब्द जिसे समझना भी उतना ही आसान है और छोटा है जितना इसका शब्द किंतु
दोस्तों जितना छोटा यह शब्द है उतना ही विशाल इसका असर भी है, वास्तु को जो व्यक्ति भली-भांति समझते हैं
और उसे अपने जीवन में उतारते हैं वह वास्तव में खुश भी रहते हैं सुखी भी रहते हैं और संपन्न भी रहते हैं समाज
में मान सम्मान प्रतिष्ठा घर में खुशहाली धन संपदा भरा पूरा परिवार वंश वृद्धि एवं अन्य सभी तरह की सुख साधनों
से संपन्न होते हैं किंतु जो लोग वास्तु का उपहास उड़ाते हैं या उसे नजरअंदाज करते हैं अनदेखा करते हैं ऐसे लोगों
को जीवन में अनेक प्रकार की कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है ।
vastu compass

 अक्सर लोगों को कहते हुए सुना होगा कि वह व्यक्ति बहुत भाग्यवान है उसका भाग्य बहुत अच्छा है, तो वास्तव में
वह वास्तु ही है जो उसके भाग को बढ़ाता भी है और उसे सामाजिक मान-सम्मान भी दिलाता है किंतु जिन लोगों को
इसकी सच्चाई पता नहीं होती है वही लोग उसके भाग्य को अच्छा और अपने भाग्य को कोसते हुए हैं नजर आते हैं।

What is Vastu Shastra And Significance In Hindi

 मेरे और भी पोस्ट हैं जिसमें मैंने बताया है कि वास्तु क्या है और वह किस तरह से हम पर अपना प्रभाव डालते हैं
और उनका महत्व क्या है तो आप उसे भी पढ़िए और समझिए, जानिए।  धन्यवाद।
SHARE

Sarvesh Astrologer Vastushastri

Astro Vastu Sarvesh (AVS) का उद्देश्य लगो की जनम कुंडली से निकलने वाली ऊर्जा और उस व्यक्ति के मकान से निकलने वाली ऊर्जा के बीच तालमेल बैठाना ही है, ताकि वो व्यक्ति मकान के बजाय "सुख और समृद्ध घर" मे रहे। इंसान के सोच से कर्म का निर्माण होता है, और कर्म से ही भाग्य का निर्माण होता है, AVS आपके कर्म को जागृत करते है और आप अपने भाग्य को।

  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment