AVS

Astrologer,Numerologer,Vastushastri

saral upay jyotish ke 11 points


saral upay jyotish ke 11 points


Saral upay k 11 points (उपाय) के विषय में पूछे गए सवाल एवं उनके जवाब

saral upay jyotish ke 11 points
saral upay jyotish ke 11 points


1 प्रश्न- मेरे उपाय (saral upay) कार्य क्यों नहीं कर रहे हैं?


उत्तर- नकारात्मक सोच के साथ कभी भी कोई उपाय ना करें, और जो भी उपाय बताया गया है वही आपके लिए सही है, इसी विश्वास के साथ उपाय करें लाभ अवश्य होगा

2 प्रश्न- उपाय (saral upay) का फल कितने दिनों में मिल जाएगा?


उत्तर- उपाय कोई जादू की छड़ी नहीं है, जिसे घुमाया और कार्य हो जाए, इसलिए धैर्य की आवश्यकता होती है। किए गए उपाय कभी व्यर्थ नहीं जाता

3 प्रश्न- उपाय किए पर लाभ की प्राप्ति कम हुई?

उत्तर- खाली बैठकर बिना काम करें केवल (saral upay) उपाय मात्र से ही ना तो व्यापार वृद्धि होगी ना ही नौकरी में तरक्की मिलेगी और न ही आपकी समस्या समाप्त होगी।

4 प्रश्न- क्या आप के बताए(saral upay) उपाय से मेरे पंख निकल सकते हैं और मैं उड़ सकता हूं ?


उत्तर- असंभव को संभव बनाने के लिए मेरे पास कोई उपाय नहीं है किंतु हां यदि आप उड़ना ही चाहते हैं तो जहाज में बैठकर अवश्य ही उड़ सकते हैं प्रश्न तार्किक होने चाहिए 
 

5 प्रश्न- सर्वेश जी ऐसा कोई (saral upay) उपाय बताइए जिससे मेरे पड़ोसी का काम धंधा बंद हो जाए?


उत्तर- किसी का अनिष्ट करने के लिए कोई उपाय नहीं होता, मगर अकारण ही परेशान करने वाले आपके शत्रु हैं। उनका उपाय संभव है, इसलिए उपाय का उद्देश्य स्वयं की कार्य सिद्धि होना चाहिए

6 प्रश्न- आपके द्वारा बताएं गए (saral upay) उपाय में मैं कुछ सामग्रियों को एकत्रित नहीं कर सका तो क्या उपाय कार्य नहीं करेंगे?


उत्तर- उपाय में प्रयुक्त सामग्री सिर्फ ईश्वर से जोड़ने का माध्यम मात्र है, फल तो आपकी श्रद्धा और विश्वास से मिलता है श्रद्धा एवं विश्वास ही संपूर्ण उपाय की कुंजी है, जो आपका आत्मविश्वास बढ़ाता है

7 प्रश्न- आपके द्वारा बताए गए उपायों को किसी और से करवा दें तो कार्य करेगा ?


उत्तर- उपाय आपको कार्य करने की प्रेरणा देगी हिम्मत देगी इच्छाशक्ति आपकी होगी तभी अच्छे परिणाम प्राप्त होंगे कभी भी ईश्वर आपकी सीधे मदद नहीं करता अपितु माध्यम बनाता है चलते आप हो उस पर तभी उपाय कार्य करते हैं, ज्योतिषी माध्यम मात्र ही है, इसलिए उपाय मैं नहीं वह बताता है, मैं तो सिर्फ माध्यम मात्र ही हूं

8 प्रश्न- उपाय (saral upay) से लाभ कैसे मिलेगा?

उत्तर- मेरे द्वारा बताए गए उपाय कभी व्यर्थ नहीं जाता। वह आपके कर्म को जागृत करेंगे और आपकी श्रद्धा और विश्वास नकारात्मक ऊर्जा को आपके अंदर से निकालकर सकारात्मक ऊर्जा को प्रवेश द्वार देगी, इसलिए उपाय करने से पहले ही फल प्राप्ति ी इच्छा ना करें, सिर्फ अपने कर्म पर ध्यान दें कर्म करेंगे तो फल अवश्य ही प्राप्त होगा

प्रश्न- आप के उपाय से मेरा भला कैसे होगा?


उत्तर- उपाय (saral upay) से समस्या समाप्त नहीं होती अपितु समस्या से लड़ने की शक्ति प्राप्त होती है, जिससे समस्या शीघ्र ही समाप्त हो जाती है।

10 प्रश्न- उपाय कार्य कैसे करता है और इसका फल कितने दिनों में प्राप्त हो जाएगा?


उत्तर- जीवन की प्रमुख घटनाएं पूर्व निर्धारित होती हैं। इंसान दो तरह की समस्या से ग्रसित होता है, एक पूर्व निर्धारित, दूसरी जानबूझकर, उपाय का उद्देश्य जानबूझकर गलती करने से बचाना है। उपाय के लाभ का असर आपकी समस्या और आपके कर्मो पर निर्भर करता है ।

11 प्रश्न- ज्योतिष और वास्तु हमारे जीवन को किस प्रकार से प्रभावित करता है ?

उत्तर- ज्योतिष जीवन के संघर्ष से जूझते हुए व्यक्ति के लिए कवच का कार्य करता है, अनेक प्राकृतिक बल अथवा शक्तियां लगातार व्यक्ति के ऊपर प्रभाव डालते हैं तथा जीवन को हर कदम पर प्रभावित करते हैं गुरुत्वाकर्षण बल उनमें से एक उदाहरण है, जैसे प्रत्येक व्यक्ति पर गुरुत्वाकर्षण बल समान तीव्रता से लगातार कार्य करता है मनुष्य इन बलों का सामना अपनी ऊर्जा से करता है तथा उसका शरीर स्वस्थ एवं सुंदर बना रहता है किंतु जब वह बूढ़ा हो जाता है तो उसके गाल लटक जाते हैं, शरीर में झुर्रियां पड़ जाती हैं, शरीर की ऊर्जा कम हो जाती है तथा वह प्राकृतिक बलों का सामना करने में सक्षम नहीं रह जाता तथा उसका शरीर झुक जाता है।
            इसी प्रकार से प्राकृतिक बल हमारे मकानों भवनों पर भी प्रभाव डालते हैं तथा यदि वास्तु सम्मत मकान न बने हो तो यह मकान पूरा प्रभाव डालते हैं इसलिए वास्तु की आवश्यकता मकान भवन शॉपिंग कॉन्प्लेक्स आदि में जरूरत होती है और ज्योतिष की जरूरत व्यक्ति के जीवन और ऊर्जा से संबंध रखती है।
वास्तु एकमात्र वैदिक विज्ञान है जिसमें हमारे पर्यावरण की भूमिका को सही रूप में परिभाषित किया गया है। वास्तु का मुख्य लक्ष्य हमें सुखद एवं स्वस्थ आवासीय स्थल प्रदान करना है। अतः हमारे घर एवं पर्यावरण की ऊर्जाओं के बीच सही तालमेल होना आवश्यक है।
    यदि उप्रोक्त उपाय के सिधंतो का पालन व्यक्ति  अपने जीवन मे करता है तो उसको लाभ् अवश्य हि प्राप्त होग
                     मित्रों उपायों के बारे में संक्षेप में मैंने बताने की आपको कोशिश की है उम्मीद करता हूं की यह कोशिश मेरी कामयाब होगी और आपको पसंद भी आएगी यदि उपायों से जुड़े आपकी किसी भी प्रकार की कोई और समस्या हो तो आप फोन के माध्यम से या ईमेल के माध्यम से हमसे संपर्क कर सकते हैं और निश्चित ही हम आपकी समस्या को दूर करने का प्रयास करेंगे उम्मीद करता हूं कि मेरी  दी हुई जानकारी से आप पूर्ण रूप से संतुष्ट हैं। यदि आप अपने नजदीक में या अपने जानने वालों को ऐसी जानकारी से अवगत कराना चाहते हैं तो इस पोस्ट को शेयर करिए, लाइक करिए, कमेंट करिए       

Contact  

                                                         धन्यवाद  
                                                  दोस्तों मैं आपका  दोस्त
                                                  एस्ट्रोलॉजर वास्तु शास्त्री
SHARE

Sarvesh Astrologer Vastushastri

Astro Vastu Sarvesh (AVS) का उद्देश्य लगो की जनम कुंडली से निकलने वाली ऊर्जा और उस व्यक्ति के मकान से निकलने वाली ऊर्जा के बीच तालमेल बैठाना ही है, ताकि वो व्यक्ति मकान के बजाय "सुख और समृद्ध घर" मे रहे। इंसान के सोच से कर्म का निर्माण होता है, और कर्म से ही भाग्य का निर्माण होता है, AVS आपके कर्म को जागृत करते है और आप अपने भाग्य को।

  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
    Blogger Comment
    Facebook Comment

1 comments:

  1. Muhurat k baare me itny jankari first time dekhi thank you

    ReplyDelete