AVS

Astrologer,Numerologer,Vastushastri

eyes blinking | kyu fadakti hai aankh | dahini aankh | bayee ankh | fadakna | in hindi

eyes blinking, kyu fadakti hai aankh 

दाहिनी बाईं आँख फड़कने का शगुन 

 हमारी आंखें eyes कभी-कभी बिना किसी कारण के फड़कती या झपकती हैं। कभी यह दाहिनी आंख eye हो सकती है और कभी बाईं। जब ऐसा होता है, तो शायद हमारी दादी या किसी अन्य बुजुर्ग व्यक्ति ने कहा होगा कि यह एक अच्छा या बुरा शगुन था। हो सकता है कि हममें से कुछ लोगों ने उनकी टिप्पणी का उपहास उड़ाया हो और अगले ही पल इसके बारे में सब कुछ भूल गए हों। तो, क्या उनकी बातों में कोई सच्चाई है? जबकि यह एक तथ्य है कि हमारी आँखों eyes blinking के झपकने और फड़कने के वैज्ञानिक कारण हैं, इस घटना के कुछ गुप्त कारण भी हैं। ज्योतिष शास्त्र में ऐसी बातें ओमेन्स के अध्ययन के अंतर्गत आती हैं। ज्योतिष की पूर्वी और पश्चिमी दोनों परंपराओं में, ओमेन्स का अध्ययन एक विशिष्ट खंड है। प्राचीन काल से, लोगों का मानना ​​है कि संकेत भविष्य की भविष्यवाणी कर सकते हैं और यह कि वे देवताओं के संदेश हैं। एक शगुन अच्छा या बुरा हो सकता है। यदि एक काली बिल्ली आपका रास्ता काटती है, तो इसे ज्यादातर संस्कृतियों में एक अपशकुन माना जाता है। धूमकेतु को भी शुभ या अशुभ माना जाता है। इंग्लैंड के राजा हेरोल्ड द्वितीय के लिए, हैली का धूमकेतु एक अपशकुन था।

                                                                  eyes blinking



इस तरह, भारत में हिंदू भी, भविष्य की घटनाओं की भविष्यवाणी करने की शक्ति और उनकी शक्ति में विश्वास करते हैं। वेद और शास्त्र ऐसे शगुन की व्याख्या प्रस्तुत करते हैं। इस प्रकार, पलक झपकना या फड़कना एक शगुन माना जाता है, और इसकी व्याख्या पुरुषों और महिलाओं के लिए अलग-अलग होती है। साथ ही यह शुभ या अशुभ दोनों प्रकार का हो सकता है, यह इस बात पर निर्भर करता है कि किसकी आंख फड़क रही है और किसके लिए। इस लेख में हम जानेंगे कि क्या पुरुषों के लिए बायीं आंख फड़कना अच्छा है।

आँख फड़कने का महत्व


समुद्र शास्त्र कहता है कि यदि किसी व्यक्ति की दाहिनी आंख फड़कती है, तो यह उसके लिए अच्छा है। यदि यह बाईं आंख है, तो उसकी सभी इच्छाएं पूरी होती हैं। उसे पदोन्नति मिल सकती है, आर्थिक लाभ हो सकता है, या किसी प्रिय से मिल सकता है। लेकिन अगर बायीं भौंह और बायीं पलक फड़क रही हो तो यह अच्छा शगुन नहीं है। यह किसी पुराने शत्रु के साथ कुछ समस्याओं का संकेत भी दे सकता है, या शत्रुता में नवीनीकरण या वृद्धि होगी। यदि बायीं आंख का सबसे निचला हिस्सा फड़कता है, तो वाद-विवाद और सार्वजनिक अपमान की संभावना होती है। यदि बायीं आंख का ऊपरी भाग - नाक के पास - फड़कता है, तो यह निकट भविष्य में एक अशुभ घटना का संकेत देता है। यदि कान के पास बायीं आंख का हिस्सा डायन हो जाए तो भविष्य में स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं हो सकती हैं। यदि यह बाईं आंख का मध्य भाग है, तो संभावना है कि व्यक्ति को कुछ धन की हानि हो सकती है।

चीनी ज्योतिष में आंख फड़कना


चीनी ज्योतिष में बायीं आंख का फड़कना शुभ माना जाता है। लेकिन अगर यह दाहिनी आंख है, तो यह दुर्भाग्य की भविष्यवाणी करती है। अगर यह एक महिला है, तो यह विपरीत है। यदि बाईं आंख के नीचे की पलक फटती है, तो यह इंगित करता है कि कोई दुखद घटना हो सकती है, या आपके बारे में अफवाहें फैलाई जा रही हैं। अफ्रीकी ज्योतिष में, निचली पलक का फड़कना यह बताता है कि आप रोने वाले हैं। यदि ऊपरी पलक झिलमिलाती है, तो आपकी किसी के साथ अचानक और अप्रत्याशित मुलाकात हो सकती है।


आँख फड़कने के वैज्ञानिक कारण


पलक झपकने के वैज्ञानिक कारण भी हैं। इनमें थकान, पर्याप्त नींद न लेना, कम रोशनी में पढ़ना या काम करना, तनाव, बहुत अधिक कैफीन, कंप्यूटर पर लंबे समय तक काम करना, तंत्रिका संबंधी समस्याएं आदि शामिल हैं।

SHARE

Sarvesh Astrologer Vastushastri

Astro Vastu Sarvesh (AVS) का उद्देश्य लगो की जनम कुंडली से निकलने वाली ऊर्जा और उस व्यक्ति के मकान से निकलने वाली ऊर्जा के बीच तालमेल बैठाना ही है, ताकि वो व्यक्ति मकान के बजाय "सुख और समृद्ध घर" मे रहे। इंसान के सोच से कर्म का निर्माण होता है, और कर्म से ही भाग्य का निर्माण होता है, AVS आपके कर्म को जागृत करते है और आप अपने भाग्य को।

  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment